उष्ण कटिबंधिय वर्षावन



वर्षावन में पेड़ काटना और इमारती लकडी इकठ्ठा करना।

वर्षावन के विनाश का एक मुख्य कारण है पेड़ों की कटाई। फर्नीचर, फर्श के निर्माण, और अन्य निर्माण कार्यों में प्रयुक्त की जाने वाली कई प्रकार की लकडी अफ्रीका, एशिया, और दक्षिण अमेरिका के उष्णकटिबंधीय वनों से प्राप्त की जाती है। संयुक्त राज्य अमेरिका जैसे देशों में लोग लकडी के विशिष्ट उत्पादों को खरीद कर वर्षावन के विनाश में प्रत्यक्ष योगदान दे रहें हैं।

जहां एक ओर पेड़ों की कटाई इस तरीके से की जा सकती है, जिससे पर्यावरण को कम नुकसान पहुंचे, वर्षावन में होने वाली अधिकांश कटाई बहुत ही विनाशकारी है। बड़े पेड़ों को काट कर गिरा दिया जाता है और जंगल में होकर इस घसीटा जाता है, इन प्रवेश मार्गों के कारण गरीब किसानों को जंगलों के अंदरूनी हिस्से खेती के लिए आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं। अफ्रीका में पेड़ों की कटाई करने वाले मजदूर अक्सर प्रोटीन के लिए "जंगली गोश्त" पर निर्भर करते हैं। वे भोज के लिए वन्य जीवों जैसे गोरिल्ला (Gorilla), हिरण और चिम्पांजी (Chimpanzee) का शिकार करते हैं।

अनुसंधान के द्वारा पाया गया है कि काटे जा चुके वर्षावनों में प्रजातियों की संख्या अछूते प्राथमिक वर्षावनों की तुलना में बहुत ही कम हैं। वर्षावनों के बहुत से जानवर परिवर्तित वातावरण में जीवित नहीं रह सकते हैं।

स्थानीय लोग अक्सर आग जलाने और निर्माण सामग्री के लिए वर्षावन से लकडी का संचय करते हैं। अतीत में ऐसी प्रथाएं पारिस्थितिकी तंत्र (Ecosystem) के लिए विशेष रूप से हानिकर नहीं थीं। हालांकि, वर्तमान में अधिक मानव आबादी वाले क्षेत्रों में, एक वर्षावन क्षेत्र से लकडी एकत्रित करने वाले लोगों की अल्प संख्या भी बहुत नुकसानदायक हो सकती है। उदाहरण के लिए मध्य अफ्रीका में शरणार्थी शिविरों (रवांडा और कांगो) के आस पास के वनों से लगभग सभी पेड़ों को काट दिया गया।




इस दस्तावेज की प्रिंट या किसी अन्य माध्यम से मुक्त वितरण के लिए सहमति यहां दी गयी है, बताया गया है कि mongabay.com इसका स्रोत है। Mongabay.com का उद्देश्य है वन्य जीवन और वन्य भूमि में रूचि बढ़ाना और पर्यावरण के मुद्दों के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देना। जब तक कि अन्यथा विनिर्दिष्ट न हो, साइट पर सभी सामग्री रेट ए. बटलर (Rhett A. Butler) के द्वारा लिखी गयी है।





उष्ण कटिबंधिय वर्षावन | कॉपीराइट और कानून | अंग्रेजी भाषा | तस्वीरें

©2008 Rhett Butler