Articles by Vivek Gupta

शिमला की नई योजना का उद्देश्य आने वाले दो दशक में शहर के विकास की रूपरेखा तैयार करने की है। इसमें न केवल टिकाऊ विकास का ध्यान रखा जाना था बल्कि शहर की विस्तार जरूरतों के साथ-साथ बढ़ती पारिस्थितिकी चुनौतियों का भी संज्ञान लेना है। तस्वीर- नवनीत शर्मा/विकिमीडिया कॉमन्स

43 सालों बाद आई शिमला के विकास की योजना, क्या मौके का फायदा उठाने में हुई चूक?

पिछले साल अक्टूबर में शिमला में एक आठ मंजिला इमारत मूसलाधार बारिश से हुए भूस्खलन के चलते ढह गई थी। गनीमत रही कि इमारत ढहने से पहले ही खाली करा…
शिमला की नई योजना का उद्देश्य आने वाले दो दशक में शहर के विकास की रूपरेखा तैयार करने की है। इसमें न केवल टिकाऊ विकास का ध्यान रखा जाना था बल्कि शहर की विस्तार जरूरतों के साथ-साथ बढ़ती पारिस्थितिकी चुनौतियों का भी संज्ञान लेना है। तस्वीर- नवनीत शर्मा/विकिमीडिया कॉमन्स
पंजाब के एक धान के खेत का दृश्य। तस्वीर- जसपिंदर सिंह दूहेवाला

हरियाणा में गंभीर हो चला है भूजल का गिरता स्तर

भूजल के खपत के मामले में भारत, विश्व के शीर्ष देशों में आता है। यहां 80 फीसदी से अधिक घरेलू जल आपूर्ति, भूजल से ही होती है। हर साल देश…
पंजाब के एक धान के खेत का दृश्य। तस्वीर- जसपिंदर सिंह दूहेवाला
चंडीगढ़ का सुखना झील। तस्वीर- विशेष प्रबंध

पंजाब और हरियाणा की लेटलतीफी से असुरक्षित है चंडीगढ़ का सुखना वन्यजीव अभयारण्य

चंडीगढ़ को देश के पहला सुनियोजित तरीके से बसाये गए शहर का खिताब हासिल है। इस शहर की बाहरी सीमा में सुखमा वन्यजीव अभयारण्य बसा है जो कई दुर्लभ वनस्पतियों…
चंडीगढ़ का सुखना झील। तस्वीर- विशेष प्रबंध

प्रदूषण की गिरफ्त में पंजाब की सतलज नदी, सफाई अभियान में हो रही लेटलतीफी

कभी सतलज नदी के किनारे मेला लगा करता था पर आज यहां सिर्फ बर्बादी के मंजर दिखता है, कहते हैं गुरुचरण सिंह जो पंजाब के गौंसपुर गांव के पूर्व सरपंच…
ब्यास नदी की कछार में रेत पर धूप सेंकता घड़ियाल। रेत खनन की वजह से इनका यह स्थान छिन सकता है, जिस पर ये आराम करने के साथ-साथ अंडा भी देते हैं। फोटो- विवेक गुप्ता

दशकों बाद पंजाब की नदी में फिर नजर आ रहे घड़ियाल, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश का भी योगदान

दशकों से पंजाब में यह माना जा रहा था कि घड़ियाल खत्म हो गए। तीन साल पहले इस जलजन्तु को लेकर एक छोटी सी कोशिश हुई और फिर इसके संरक्षण…
ब्यास नदी की कछार में रेत पर धूप सेंकता घड़ियाल। रेत खनन की वजह से इनका यह स्थान छिन सकता है, जिस पर ये आराम करने के साथ-साथ अंडा भी देते हैं। फोटो- विवेक गुप्ता
पटियाला के एक गांव में पराली जलाता हुआ किसान

पंजाब में तीन गुणा बढ़ा पराली जलाने का मामला, दिल्ली के लोगों पर प्रदूषण और कोविड-19 की दोहरी मार

तेईस अक्टूबर को हुए तीसरे और आखिरी प्रेसीडेंशियल बहस में अमेरिका के वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत का जिक्र करते हुए कहा कि यहां की हवा बहुत गंदी है।…
पटियाला के एक गांव में पराली जलाता हुआ किसान