Articles by Manish Kumar

बेंगलुरु शहर के दक्षिण पूर्व में बेलंदूर झील शहर की सबसे बड़ी झील है। तस्वीर- अश्विन कुमार/विकिमीडिया कॉमन्स

झीलों पर अतिक्रमण, अनियमित निर्माण बेंगलुरु की बाढ़ के मुख्य कारण

भारत की सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) का गढ़ बेंगलुरु, हाल ही में शहरी बाढ़ की वजह से सुर्खियों में बना हुआ था। इस साल अगस्त के अंतिम सप्ताह और सितंबर के…
बेंगलुरु शहर के दक्षिण पूर्व में बेलंदूर झील शहर की सबसे बड़ी झील है। तस्वीर- अश्विन कुमार/विकिमीडिया कॉमन्स
उत्तर भारत में बढ़ता वायु प्रदूषण और तकनीकी विशेषज्ञों की कमी से जूझते प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड: रिपोर्ट

उत्तर भारत में बढ़ता वायु प्रदूषण और तकनीकी विशेषज्ञों की कमी से जूझते प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड: रिपोर्ट

इस साल एक नवम्बर को देश की राजधानी नई दिल्ली पूरी तरह से प्रदूषित जहरीली हवा के चंगुल में दिखी। इस दिन इस साल के वायु प्रदूषण के सारे रिकॉर्ड…
उत्तर भारत में बढ़ता वायु प्रदूषण और तकनीकी विशेषज्ञों की कमी से जूझते प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड: रिपोर्ट
पवन चक्की से कुछ दूर जलावन के लिए लकड़ियां इकट्ठा करता एक किसान। नेट जीरो को लेकर भारत की महत्वाकांक्षी योजना को लेकर जानकारों की राय है कि वर्तमान स्थिति में भारत की नीति निर्माण में भारी विरोधाभास है। तस्वीर- वेस्तास/याहू/फ्लिकर

पुरानी पवन चक्कियों की क्षमता बढ़ाने की नई नीति से कैसे बदलेगा ऊर्जा क्षेत्र

भारत सरकार के नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने हाल ही में पवन ऊर्जा को देश में बढ़ावा देने के लिए एक ड्राफ्ट नीति जारी की है। इस नीति का…
पवन चक्की से कुछ दूर जलावन के लिए लकड़ियां इकट्ठा करता एक किसान। नेट जीरो को लेकर भारत की महत्वाकांक्षी योजना को लेकर जानकारों की राय है कि वर्तमान स्थिति में भारत की नीति निर्माण में भारी विरोधाभास है। तस्वीर- वेस्तास/याहू/फ्लिकर

इलेक्ट्रिक वाहनों की बैटरियों से जुड़ी समस्याओं को कैसे सुलझा रहे हैं बेंगलुरु के ये स्टार्टअप्स

देश में इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ रही है और साथ ही इनमें प्रयोग होने वाले बैटरियों की खरीद भी बढ़ रही है। इलेक्ट्रिक वाहनों को जीवाश्म ईंधन…
गणेश प्रतिमाओं से इस साल दो मिट्टी एकत्रित हुई है उसे अगले साल मूर्तियां बनाने में इस्तेमाल में लाया जाएगा। तस्वीर- वेदसूत्र / विकिमीडिया कॉमन्स

पुणे में गणेश प्रतिमाओं की मिट्टी को दोबारा उपयोग में लाकर पर्यावरण बचाने की पहल

दिनेश गोले महाराष्ट्र के पेण में रहने वाले एक मूर्तिकार हैं जो कई वर्षों से गणेश उत्सव के लिए मूर्तियां बनाते हैं। पेण, पुणे से लगभग 100 किलोमीटर की दूरी…
गणेश प्रतिमाओं से इस साल दो मिट्टी एकत्रित हुई है उसे अगले साल मूर्तियां बनाने में इस्तेमाल में लाया जाएगा। तस्वीर- वेदसूत्र / विकिमीडिया कॉमन्स
पुणे में स्थित एक बायो-सीएनजी स्टेशन। बायो-सीएनजी को सीधे सीएनजी से चलने वाले वाहनों में डाला जा सकता है। तस्वीर-मनीष कुमार

क्या बायो-सीएनजी बन सकता है भारत के नवीन ऊर्जा के भविष्य का एक प्रभावशाली विकल्प?

इस साल अगस्त के महीने में पंजाब सरकार ने घोषणा की कि राज्य में संपीडित (कंप्रेस्ड) बायोगैस (सीबीजी) का व्यावसायिक उत्पादन संगरूर के भुट्टन कलन नाम के गांव से बड़े…
पुणे में स्थित एक बायो-सीएनजी स्टेशन। बायो-सीएनजी को सीधे सीएनजी से चलने वाले वाहनों में डाला जा सकता है। तस्वीर-मनीष कुमार

विकेंद्रीकृत नवीन ऊर्जा के क्षेत्र में बढ़ रहा रोजगार का अवसर, ग्रामीण इलाकों में रुक सकता है पलायन

विकेंद्रीकृत नवीन ऊर्जा का देश के ग्रामीण इलाकों में देखा जाना आजकल आम होता जा रहा है। सौर ऊर्जा से ग्रामीण क्षेत्र में कई चुनौतियों का समाधान खोजा जा रहा…
नई दिल्ली में इंद्रप्रस्थ डीटीसी बस डिपो के पास एक व्यस्त सड़क। तस्वीर- मनीष कुमार / मोंगाबे

दिल्ली में ई-बसों का विस्तार हो तो घट सकती हैं प्रदूषण से होने वाली मौत

दिल्ली में वायु प्रदूषण का मौसम फिर से आ रहा है और लोग सहमे हुए हैं। दूसरी तरफ 2022 की शुरुआत से दिल्ली की  सड़कों पर कई नए तरीके की…
नई दिल्ली में इंद्रप्रस्थ डीटीसी बस डिपो के पास एक व्यस्त सड़क। तस्वीर- मनीष कुमार / मोंगाबे
ओडिशा के भुवनेश्वर शहर में एक सोलर रूफटॉप के एक उपभोक्ता। तस्वीर-मनीष कुमार/मोंगाबे

आखिर क्यों धीमी है ओडिशा में सोलर नेट मीटर के विकास की रफ्तार?

राइरंगपुर, ओडिशा के मयूरभंज जिले का एक छोटा सा शहर है। यह शहर हाल ही में संपन्न हुए राष्ट्रपति चुनाव के दौरान चर्चा में रहा। इधर इस स्थान से नाता…
ओडिशा के भुवनेश्वर शहर में एक सोलर रूफटॉप के एक उपभोक्ता। तस्वीर-मनीष कुमार/मोंगाबे
महाराष्ट्र के तटीय शहर दहानू में दहानू थर्मल पावर स्टेशन। 31 मार्च, 2021 तक, भारत में 267 कोयला आधारित ताप विद्युत संयंत्र थे। तस्वीर- कार्तिक चंद्रमौली/मोंगाबे

क्यों हो रहा है विद्युत संशोधन विधेयक का विरोध, आम उपभोक्ताओं पर कैसे पड़ेगा असर?

भारत सरकार के केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने हाल ही में संसद के मॉनसून सत्र में बिजली संशोधन विधेयक को लोक सभा में पेश किया। यह बिल 2003 के…
महाराष्ट्र के तटीय शहर दहानू में दहानू थर्मल पावर स्टेशन। 31 मार्च, 2021 तक, भारत में 267 कोयला आधारित ताप विद्युत संयंत्र थे। तस्वीर- कार्तिक चंद्रमौली/मोंगाबे