Articles by Kundan Pandey

गर्मी में ठंड और ठंड में गर्मी, घर बनाते समय इन बातों का रखें ध्यान

गर्मी में ठंडा और सर्दी में गर्म रहने वाले घर बनाने हों तो इन बातों का रखें ध्यान

आप साल 2030 में इंदौर या सूरत जैसे शहरों में किसी आवासीय परिसर (रेसिडेंशियल कॉम्पलेक्स) की कल्पना करें। अगर ये इमारतें मौजूदा दौर की गगनचुंबी इमारतों की तरह ही हुईं,…
गर्मी में ठंड और ठंड में गर्मी, घर बनाते समय इन बातों का रखें ध्यान
पिछले कुछ सालों में बंदरों की समस्या तेज़ी से बढ़ी है। खेत की फसलों को तो ये बंदर चट कर ही रहे हैं, घरों के पीछे लगी बाड़ी की सब्जियों को इन बंदरों से बचाना मुश्किल हो रहा है। तस्वीर- आलोक प्रकाश पुतुल

[वीडियो] छत्तीसगढ़ में बंदरों के आतंक से किसान परेशान, दलहन-तिलहन की खेती प्रभावित

छत्तीसगढ़ के मैदानी इलाको के किसान, बंदरों से परेशान हैं। बंदरों का झुंड खेत में तैयार फसलों को चट कर जा रहा है। बंदरों से होने वाले नुकसान के कारण…
पिछले कुछ सालों में बंदरों की समस्या तेज़ी से बढ़ी है। खेत की फसलों को तो ये बंदर चट कर ही रहे हैं, घरों के पीछे लगी बाड़ी की सब्जियों को इन बंदरों से बचाना मुश्किल हो रहा है। तस्वीर- आलोक प्रकाश पुतुल
सरखेत गांव के प्राथमिक विद्यालय का आधा से ज्यादा हिस्सा मलबे दब गया है। तस्वीर-त्रिलोचन भट्ट

गुजरते मॉनसून ने उत्तराखंड में मचाई तबाही, जान-माल का भारी नुकसान

भले ही इस साल उत्तराखंड में मॉनसून में बारिश औसत से कम हुई है। लेकिन बारिश और भूस्खलन से जान-माल का नुकसान जारी है। राज्य में 15 जून से 28…
सरखेत गांव के प्राथमिक विद्यालय का आधा से ज्यादा हिस्सा मलबे दब गया है। तस्वीर-त्रिलोचन भट्ट
(बाएं से) नशीमन अशरफ, महरीन खलील और उल्फत मजीद। तस्वीर- मेहरीन खलील और उल्फत मजीद और हिरा अज़मत

केसर, जैव विविधता और हिमनद: कश्मीर की महिला वैज्ञानिक कर रही हैं क्षेत्र के जलवायु गतिविधियों का नेतृव

इस जलवायु परिवर्तन से स्थानीय पारिस्थितिकी, आजीविका और उन्हें बनाए रखने वाले नेटवर्क के लिए खतरा है। वैज्ञानिक नशीमन अशरफ, उल्फत मजीद और महरीन खलील अलग-अलग पृष्ठभूमि से हैं और…
(बाएं से) नशीमन अशरफ, महरीन खलील और उल्फत मजीद। तस्वीर- मेहरीन खलील और उल्फत मजीद और हिरा अज़मत
उत्तर भारत में हाल ही में काटे गए खेत में चार वूली नेक्ड स्टॉर्क का एक परिवार। पारंपरिक कृषि तकनीक, अनुकूल फसलें, और कम शिकार गतिविधि कृषि क्षेत्रों को पक्षियों के लिए एक स्थायी निवास स्थान बनाती है। तस्वीर- के.एस. गोपी सुंदर।

वूली नेक्ड स्टॉर्क और हैरान करती हरियाणा में इनकी बढ़ती तादाद

भले ही पूरी दुनिया में पक्षियों की आबादी लगातार गिर रही है, लेकिन एक ऐसा भी पक्षी है जिसकी संख्या बढ़ रही है। इसे अंग्रेजी में वूली नेक्ड स्टॉर्क कहते…
उत्तर भारत में हाल ही में काटे गए खेत में चार वूली नेक्ड स्टॉर्क का एक परिवार। पारंपरिक कृषि तकनीक, अनुकूल फसलें, और कम शिकार गतिविधि कृषि क्षेत्रों को पक्षियों के लिए एक स्थायी निवास स्थान बनाती है। तस्वीर- के.एस. गोपी सुंदर।
शहरों में आस-पास के इलाकों के तापमान में अंतर क्यों होता है?

शहरों में आस-पास के इलाकों के तापमान में अंतर क्यों होता है?

अर्बन हीट आइलैंड (UHI) प्रभाव के कारण ख़ास तौर से शहरी इलाकों में  गर्मी का असर अधिक हुआ। इन इलाकों में गर्मी का बढ़ना कोई पहली या एक बार की…
शहरों में आस-पास के इलाकों के तापमान में अंतर क्यों होता है?
भारत में आवारा कुत्तों की संख्या लगभग 3.5 करोड़ आकी गई है। तस्वीर- अचत 1999/विकिमीडिया कॉमन्स

हरियाणा में आवारा कुत्तों के हमले से काले हिरण को खतरा

हरियाणा राज्य के फतेहाबाद ज़िले में बडोपाल क्षेत्र और हिसार ज़िले के मंगली-रावतखेड़ा क्षेत्र में आवारा कुत्तों की वजह से स्थानीय नीलगाय और काले हिरण की आबादी ख़तरे में है।…
भारत में आवारा कुत्तों की संख्या लगभग 3.5 करोड़ आकी गई है। तस्वीर- अचत 1999/विकिमीडिया कॉमन्स

[वीडियो] आने वाले दिनों में जलवायु परिवर्तन से कम हो सकती है सौर और पवन ऊर्जा की क्षमता

भारत में आज के समय में पवन ऊर्जा का विस्तार कुछ चुनिन्दा जगहों पर ही हो रहा है। इसके कई कारण हैं। अव्वल तो पवन चक्की के हिसाब से हवा…

भारत में अब बनेगा अपना खुद का कार्बन क्रेडिट मार्केट, भवन निर्माण के भी बदलेंगे नियम

लोक सभा में हाल ही में ऊर्जा संरक्षण (संशोधन) विधेयक 2022 पारित हुआ। अगस्त 10 को पारित इस विधेयक में स्वच्छ ऊर्जा को प्रोत्साहित करने के कई उपाय किये गए…
राज्यसभा के नवनिर्वाचित/पुनर्निर्वाचित सदस्यों के लिए शपथ ग्रहण समारोह 22 जुलाई, 2020 को राज्यसभा में आयोजित किया गया। तस्वीर- राज्यसभा

भारतीय संसद में जलवायु परिवर्तन पर बहुत कम होती है चर्चा, शोध में हुआ खुलासा

“यह हर बार की कहानी है। किसी आपदा के आने पर राजनेता अक्सर जलवायु परिवर्तन की आड़ लेते हैं,” यह बात जलवायु वैज्ञानिक रॉक्सी मैथ्यू कोल ने कही। वे विधायकों…
राज्यसभा के नवनिर्वाचित/पुनर्निर्वाचित सदस्यों के लिए शपथ ग्रहण समारोह 22 जुलाई, 2020 को राज्यसभा में आयोजित किया गया। तस्वीर- राज्यसभा